फोटो: BloombergNEF

‘पीएम सूर्य घर: मुफ्त बिजली योजना’ देगी सौर ऊर्जा को बढ़ावा

इस साल का अंतरिम बजट पेश करते हुए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ग्रिड-आधारित सौर ऊर्जा योजना के लिए 10,000 करोड़ रुपए का आवंटन किया था। वहीं बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की कि इस योजना का नाम ‘पीएम सूर्य घर: मुफ्त बिजली योजना’ होगा, और इसके अंतर्गत एक करोड़ घरों में रूफटॉप सोलर पैनल लगाए जाएंगे जिससे उन्हें हर महीने 300 यूनिट बिजली मुफ्त मिलेगी।

मोदी ने कहा कि योजना में 75,000 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश किया जाएगा। इस योजना के तहत सब्सिडी और सस्ते दर पर बैंक लोन भी मुहैया कराए जाएंगे। रूफटॉप सोलर लगाने पर सरकार 60 प्रतिशत तक की सब्सिडी देगी।

इस योजना का लाभ लेने के लिए https://pmsuryaghar.gov.in पर पंजीकरण करवाना होगा और सब्सिडी स्ट्रक्चर की जानकारी भी इस लिंक पर मिलेगी। 

तीन गुनी अक्षय ऊर्जा क्षमता के लिए हर साल चाहिए रु 2 लाख करोड़

थिंक टैंक क्लाइमेट एनालिटिक्स की एक रिपोर्ट के अनुसार यदि दुनिया को 2030 तक निर्धारित नवीकरणीय ऊर्जा स्थपना लक्ष्यों को पूरा करना है तो उसके लिए हर साल दो लाख करोड़ रुपए के निवेश की जरूरत होगी।  जबकि पिछले साल यह निवेश एक लाख करोड़ से भी कम था।

रिपोर्ट में कहा गया है की भारत और चीन में नवीकरणीय ऊर्जा परियोजनाओं की संख्या बढ़ने के कारण एशिया में अक्षय ऊर्जा में वृद्धि देखी जा रही है।  लेकिन इन दोनों देशों की कोयला परियोजनाएं अभी भी चिंता का कारण हैं। हालांकि इसमें कहा गया है कि भारत में 2030 तक अक्षय ऊर्जा क्षमता में 2.9-3.5 गुना वृद्धि होगी।

गौरतलब है कि पिछले साल कॉप28 के दौरान तय किया गया था कि 2030 तक वैश्विक अक्षय ऊर्जा क्षमता तीन गुना बढ़ाई जाएगी। हालांकि, इस रिपोर्ट का कहना है कि इस लक्ष्य को पाने के लिए वैश्विक नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता को 11.5 टेरावाट तक बढ़ाना होगा, यानि 2022 के स्तर से 3.4 गुना। और यह केवल तभी किया जा सकता है जब इस उद्देश्य के लिए हर साल 2 लाख करोड़ रुपए का निवेश किया जाए।

लगातार गिर रहा है इरेडा के शेयरों का भाव

बीते साल नवंबर महीने में लिस्टिंग के बाद से सरकारी कंपनी इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी (इरेडा) ने निवेशकों को लगातार मुनाफा दिया। हालांकि, बीते कुछ दिनों से यह शेयर बिकवाली मोड में है। सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को भी यह शेयर 162 रुपए पर था।

एक दिन पहले के मुकाबले शेयर 5% लुढ़का और इसमें लोअर सर्किट लगा। यह लगातार पांचवां कारोबारी दिन है जब शेयर में लोअर सर्किट लगा है।

जानकारों का कहना है कि अगर इरेडा के शेयरों में गिरावट जारी रही, तो यह संभावित रूप से 140 रुपए या इसके आसपास तक पहुंच सकता है। एक्सपर्ट निवेशकों को अभी खरीदारी से परहेज करने की सलाह दे रहे हैं।

अडानी ग्रीन ने शुरू किया खावड़ा पार्क में बिजली उत्पादन

अडानी ग्रीन ने बुधवार, 14 फरवरी को कहा कि उसने गुजरात के खावड़ा में स्थित अपने नवीकरणीय ऊर्जा पार्क में बिजली उत्पादन शुरू कर दिया है। कंपनी ने बताया कि अभी 551 मेगावाट सौर क्षमता का संचालन शुरू किया गया है, जिससे नेशनल ग्रिड को बिजली आपूर्ति की गई है

कंपनी ने कहा कि वह पार्क में 30 गीगावॉट नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता विकसित करने की योजना बना रही है और अगले पांच वर्षों में इसके चालू होने की उम्मीद है। यदि ऐसा हुआ तो यह दुनिया का सबसे बड़ा अक्षय ऊर्जा इंस्टालेशन होगा।

अनुमान है कि खावड़ा आरई पार्क के पूरा होने पर सालाना 1.6 करोड़ घरों को बिजली मिलेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.