ऐतिहासिक मोड़ की ओर : मर्सिडीज़ बनाने वाली जर्मन कंपनी ने कहा है कि 2039 आते आते वह पेट्रोल-डीज़ल कारों को अलविदा कह देगी । फ़ोटो: TheDrive

बड़ी ख़बर: जर्मन कार कंपनी डायमलर का ऐलान: 2039 से बनायेगी केवल बैटरी कारें

मशहूर कार ब्रांड मर्सिडीज़-बेंज की मालिक जर्मन कंपनी डायमलर ने घोषणा की है कि वह 2039 से उनकी बनाई सारी कारें बैटरी चालित ही होंगी। इसी कंपनी ने ही 1886 में कारों में पहला IC इंजन लगाया था। डायमलर ने यह घोषणा अपने “एंबिशन 2039” प्रोग्राम के तहत की है जिसमें प्रदूषण रहित ट्रांसपोर्ट को बढ़ावा देने का लक्ष्य है। कंपनी का लक्ष्य है कि 2039 तक उसके सभी यूरोपियन कार-प्लांट भी सिर्फ सौर ऊर्जा से ही चलें।

डायमलर ने पिछले साल (2018 में) कुल करीब 24 लाख कारें बेचीं थीं। फॉक्सवेगन के बाद यह दूसरी जर्मन कार कंपनी है जिसने बैटरी कार निर्माण की दिशा में बड़ा वादा किया है। दूसरी ओर बीएमडब्लू, जेगुआर, वॉल्वो और ऑडी जैसी कारों ने अधिक से अधिक इलैक्ट्रिक और हाइब्रिड कारों की घोषणा की है जिससे कार्बन उत्सर्जन में काफी कमी आ सकती है। हालांकि भारत जैसे देश में इसका असर नगण्य ही रहेगा क्योंकि हमारे यहां ऐसी लग्ज़री कारों की संख्या 1.5% से भी कम है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.